हरियाणा में दो को छोड़ सभी मंत्री चुनाव हारे

नई दिल्ली
हरियाणा विधानसभा चुनाव में बीजेपी बहुमत से दूर रह गई। हालांकि, वह सिंगल लार्जेस्ट पार्टी के तौर पर उभरी है। बीजेपी के तमाम दिग्गजों को हार का सामना करना पड़ा है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और बनवाली लाल को छोड़कर खट्टर सरकार के सभी मंत्री चुनाव हार गए हैं। राज्य मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने भी बावल सीट से जीत दर्ज की है। बीजेपी ने खट्टर सरकार के 2 कैबिनेट मंत्रियों राव नरबीर सिंह और विपुल गोयल को इस बार टिकट नहीं दिया था।

कैप्टन अभिमन्यु (नारनौंद)
नारनौंद विधानसभा सीट से खट्टर सरकार में वित्त मंत्री रहे कैप्टन अभिमन्यु को हार का सामना करना पड़ा है। उन्हें जननायक जनता पार्टी के रामकुमार गौतम ने 12,029 मतों के अंतर से हराया।

ओपी धनकड़ (बादली)
हरियाणा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे ओम प्रकाश धनकड़ को भी शिकस्त झेलनी पड़ी है। बादली विधानसभा सीट से कांग्रेस के कुलदीप वत्स ने धनकड़ को 11,245 वोटों से अंतर से शिकस्त दी है।

राम बिलास शर्मा (महेंद्रगढ़)
हरियाणा बीजेपी के कद्दावर नेता और खट्टर सरकार में शिक्षा मंत्री रहे राम बिलास शर्मा को भी हार का मुंह देखना पड़ा है। महेंद्रगढ़ में कांग्रेस के राव दान सिंह ने शर्मा को 10 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से हराया।

कविता जैन (सोनीपत)
खट्टर सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री रही जैन भी अपनी सीट नहीं बचा पाईं। सोनीपत सीट से कांग्रेस के सुरेंद्र पंवार ने जैन को 32,878 वोटों के बड़े अंतर से मात दी।

कृष्ण लाल पंवार (इसराना)
खट्टर सरकार में ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर रहे कृष्ण लाल पंवार भी अपनी सीट नहीं बचा पाए। इसराना (सुरक्षित) से कांग्रेस के बलबीर सिंह ने पंवार को 20,015 वोटों के बड़े अंतर से शिकस्त दी।

मनीष ग्रोवर (रोहतक)
खट्टर सरकार में मंत्री मनीष ग्रोवर को भी रोहतक में हार का सामना करना पड़ा है। कांग्रेस के भारत भूषण बत्रा ने ग्रोवर को 2735 मतों के अंतर से हराया।

करन देव कंबोज (रादौर)
मंत्री करन देव कंबोज भी रादौर से हार चुके हैं। उन्हें कांग्रेस के बिशन लाल ने 2,541 वोटों के अंतर से हराया।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला (तोहाना)
हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष सुभाष बराला भी अपनी सीट नहीं बचा पाए। तोहाना में उन्हें जननायक जनता पार्टी के देवेंदर सिंह बबली ने 52,302 वोटों के अंतर से हराया।