February 22, 2024

 अमानवीयता की हद पार कर बदमाशों ने युवती को निर्वस्त्र कर पीटा

 आजमगढ़                                                                                                                                             
उत्तर प्रदेश में आजमगढ़ के रौनापार थाना क्षेत्र में एक युवती को घर में घुसकर निर्वस्त्र कर पीटने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। हालत ये है कि पुलिस लगातार कई दिनों तक मामले को दबाए हुए थी। उच्चधिकारियों के हस्तक्षेप पर शुक्रवार को घटना के एक हफ्ते के बाद पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पीड़ित युवती के भाई की तहरीर पर यह मुकदमा दर्ज कर पुलिस आरोपियों की खोजबीन में जुट गई है।

रौनापार क्षेत्र के एक गांव में 17 अक्तूबर को सुबह नौ बजे पांच युवक पीड़ित युवती के घर घुस गए। पीड़ित के भाई ने आरोप  लगाया है कि पवन पुत्र रामबृक्ष समेत पांच लोग घर में मौजूद उसकी बहन को निर्वस्त्र कर उसे मारने पीटने लगे। बहन ने विरोध करते हुए जब शोर मचाने का प्रयास किया आरोपियों ने दहशत फैलाने के इरादे से तमंचे से फायर कर दिया।

जब इतने से भी उसकी बहन ने विरोध करना बंद नहीं किया तो युवक  जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से चले। परिवार के लोगों ने इस घटना की सूचना उसी दिन पुलिस को दी। पुलिस मुकदमा दर्ज करने के पहले छानबीन के नाम मामले को टालती रही। लगातार टाल मटोल करने में लगी हुई थी। मामला सीओ सगड़ी के संज्ञान में आने के बाद रौनापार थाने की पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया।

रौनापार एसओ कृष्णानंद ने कहा कि एक आरसीसी को लेकर दोनो पक्षों में विवाद इसकी वजह है। घटना में कोई सत्यता नहीं है। चूंकि उच्चाधिकारियों ने निर्देश दिया इसलिए मुकदमा दर्ज किया गया है। दूसरे पक्ष ने इसके पहले पीड़ित पक्ष पर भी मुकदमा दर्जकराया है।