प्रदेश के 1327 कालेजों में अभी भी छह लाख सीटें खाली

भोपाल
प्रदेश के 1327 कालेजों में अभी भी यूजी-पीजी की करीब छह लाख सीटें रिक्त बनी हुई है। करीब सवा लाख विद्यार्थी पंजीयन करने के बाद सत्यापित हैं। उन्हें सिर्फ कालेजों में जाकर प्रवेश लेना है। वहीं अंतिम सीएलसी में करीब 12 हजार विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया है। इससे करीब एक लाख चालीस हजार विद्यार्थी छठवीं सीएलसी में प्रवेश लेने की योग्यता रखते हैं।

 यूजी-पीजी में प्रवेश लेने के लिए छह लाख 70 हजार विद्यार्थियों ने पंजीयन कराया है। इसमें से छह लाख 50 हजार ने सत्यापन भी करा लिया है। जबकि कालेजों में पांच लाख 29 हजार विद्यार्थियों ने ही प्रवेश लिया है। अभी भी करीब सवा लाख विद्यार्थी सत्यापित होने के बाद प्रवेश लेने कालेजों तक नहीं पहुंचे हैं। ऐसे विद्यर्थियों के पास प्रवेश लेने का अंतिम मौका सोमवार से शुरू हो जाएगा। क्योंकि विभाग सोमवार को सभी सत्यापित विद्यार्थियों का डाटा कालेज भेज देगा। इसके बाद विद्यार्थी अपने पसंदीदा कालेज में प्रवेश लेने के लिये एक आवेदन जमा करेंगे। प्राचार्य उनकी मेरिट तैयार कर जारी करेंगे। मेरिट में नाम आने के बाद विद्यार्थी फीस जमा कर प्रवेश ले पाएंगे।

कल तक और करा सकते हैं सत्यापन
अंतिम सीएलसी में 12 हजार नये रजिस्ट्रेशन हुये हैं। इसमें यूजी के नौ हजार 285 एवं पीजी के तीन हजार विद्यार्थी शामिल हैं। इसमें से सात हजार 392 ने दस्तावेजों का सत्यापन कराया है। विद्यार्थी कल तक दस्तावेजों का सत्यापन करा सकते हैं। इसके बाद 29 अगस्त को मेरिट सूची जारी की जाएगी। मेरिट सूची जारी होने के बाद विद्यार्थी 30 और 31 अगस्त तक फीस जमा कर सकते हैं। विभाग ने इस साल प्रदेश के 1329 निजी और सरकारी कालेजों में कुल 11 लाख 12 हजार 107 सीटों को भरने के लिए 18 मई से प्रवेश प्रक्रिया शुरू की थी।

यूजी-पीजी में सीटों की स्थिति
यूजी-पीजी की सीट    11,12,107
यूजी-पीजी में पंजीयन    6,75,107
यूजी-पीजी में सत्यापन    6,42,107
यूजी-पीजी की रिक्त सीट    5,84,000
यूजी-पीजी में प्रवेश    5,28,107