मंत्री डॉ. चौधरी ने जिला अस्पताल रायसेन और भोपाल में भर्ती मरीजों से किया वर्चुअली संवाद

भोपाल
लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने रायसेन और भोपाल जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों से वीडियो कॉल कर वर्चुअली संवाद किया। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी प्रत्येक सोमवार को प्रदेश के किन्हीं दो जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों से वीडियो कॉल पर उनको मिल रहे उपचार और स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी के संबंध में चर्चा करते हैं।

लोक स्वास्थ्य मंत्री चौधरी ने रायसेन जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीज जसरा बाई और सावित्री बाई से चर्चा की। जसरा बाई ने बताया कि उन्हें प्रसव के लिये एम्बुलेंस से रायसेन जिला चिकित्सालय लाया गया। अब वह पूरी तरह से ठीक हैं। सावित्री बाई ने बताया कि उन्हें पेट में ट्यूमर होने से दर्द हो रहा था। वह जिला चिकित्सालय में भर्ती हुईं और डॉक्टरों द्वारा ऑपरेशन कर 12 किलोग्राम का ट्यूमर निकाला। उन्हें अभी आराम है। उन्होंने बताया कि जिला चिकित्सालय में उनका पूरा उपचार नि:शुल्क हुआ है। दवाइयों के साथ भोजन भी नि:शुल्क मिल रहा है।

भोपाल जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीज कंचन और निधि तिवारी ने बताया कि उन्हें जिला चिकित्सालय में प्रसव के लिये भर्ती किया गया था। नार्मल प्रसव होने के बाद चिकित्सालय से खाने के लिये पौष्टिक लड्डू भी दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि उनका संबल कार्ड है और उन्हें 16-16 हजार रूपये मिलेंगे। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने भोपाल जिला अस्पताल के पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती 8 माह के जोहान और फरीम की माँ से चर्चा की। उन्होंने बताया कि बच्चों को भर्ती कर जाँच की गई और उपचार के बाद बच्चों के वजन में बढ़ोत्तरी हुई है। पोषण पुनर्वास केन्द्र के स्टॉफ ने उन्हें पोषण आहार बनाने और खिलाने की तकनीक भी समझाई है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने रायसेन और भोपाल अस्पताल के सिविल सर्जन को कहा कि अस्पताल में किसी भी प्रकार की समस्या होने पर वह सीधे उनसे सम्पर्क कर सकते हैं।