उमेश पाल हत्याकांड : पुलिस के रडार पर UP 70 नंबर वाली 500 कार और मलिक, लगीं कई टीमें

प्रयागराज
प्रयागराज में उमेश पाल हत्याकांड से बरेली जेल का कनेक्शन के बाद जनवरी व फरवरी में बरेली और आसपास के इलाकों में आने-जाने वाली प्रयागराज की 500 कार और उनके मालिक पुलिस के रडार पर हैं। पुलिस इन लोगों के बारे में और यहां आने-जाने के कारण की तलाश कर रही है। इसके लिए पुलिस की कई टीमें लगाई गई हैं। साथ ही इनका डाटा प्रयागराज पुलिस से भी शेयर किया गया है।

प्रयागराज में उमेश पाल हत्याकांड के बाद पुलिस हर बिंदु पर गहराई से जांच पड़ताल कर रही है। इसको लेकर पुलिस ने जनवरी और फरवरी में बरेली व आसपास के इलाकों में आने-जाने वाली गाड़ियों का डाटा जुटाया है। इसके लिए बरेली-लखनऊ रूट पर सीतापुर, बरेली-दिल्ली रूट पर फतेहगंज पश्चिमी और बरेली-उत्तराखंड रूट पर भोजीपुरा टोल प्लाजा से जानकारी की गई है। इसमें इन दो महीने में प्रयागराज की करीब पांच सौ गाड़ियों के बरेली व आसपास के इलाके में आने की जानकारी मिली है। इन गाड़ियों का इनपुट प्रयागराज पुलिस से शेयर करके इनके बारे में जानकारी जुटाने का काम शुरू कर दिया गया है। इस जांच में गाड़ी में आने वाले व्यक्तियों और आने के कारण के बारे में खासतौर पर जानकारी की जा रही है।

एसपी सिटी राहुल भाटी ने बताया कि तीन टोल प्लाजा की जांच में प्रयागराज की करीब पांच सौ गाड़ियों का डाटा मिला है। टीमों को लगाकर इनमें आने-जाने वाले लोगों के बारे में उनके आने के कारण की जांच की जा रही है।

 

You may have missed