लोकतंत्र नहीं, कांग्रेस का वजूद खतरे में है; जेपी नड्डा का राहुल गांधी पर एक और वार

बेंगलुरु

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के द्वारा विदेश में दिए गए बयानों पर भारत की राजनीति गरमा गई है। भाजपा और कांग्रेस इस मुद्दे पर आमने-सामने है। इस बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा ने शुक्रवार को कहा कि लोकतंत्र नहीं, कांग्रेस पार्टी खतरे में है। आपको बता दें कि राहुल गांधी ने लंदन में कहा था कि उन्हें संसद में बोलने नहीं दिया जाता है। माइक बंद कर दी जाती है। उन्होंने भारत में लोकतंत्र को खतरा बताया था।

जेपी नड्डा ने कांग्रेस नेता पर भारत की संप्रभुता को चुनौती देने का भी आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने जनता से ऐसे लोगों को चुनाव में सबक सिखाने का आग्रह किया। उन्होंने आगे कहा, ''कांग्रेस जिस तरह से मानसिक दिवालियापन की ओर बढ़ रही है वह निंदनीय और पीड़ादायक है। कांग्रेस पार्टी इन दिनों जिस तरह की गतिविधियों में शामिल है और उनके नेता राहुल गांधी जो कर रहे हैं, वह निंदनीय है।''

कर्नाटक में एक जनसभा को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता भ्रष्टाचार, कमीशनखोरी, अपराधीकरण और बांटो व राज करो की नीति में संलिप्त हैं। उन्होंने अब सारी हदें पार कर दी हैं। राहुल गांधी इंग्लैंड जाते हैं और भारत की संप्रभुता पर सवाल उठाते हैं। वह कहते हैं कि यहां लोकतंत्र खत्म हो गया। हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में नगालैंड को कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली, मेघालय में पांच सीट और त्रिपुरा में तीन सीट मिली है। यह लोकतंत्र नहीं है, जो खतरे में है, आपकी पार्टी खतरे में है।

भाजपा अध्यक्ष मई में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी की 'विजया संकल्प यात्रा' के तहत बेंगलुरू में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। जनसभा में कर्नाटक भाजपा के अध्यक्ष नलिन कुमार कटील, राज्य के मंत्री आर अशोक, बी श्रीरामुलु सहित अन्य लोग उपस्थित थे। इससे पहले दिन में भाजपा अध्यक्ष ने चलाकेरे और मोलाकलमुरु में रोड शो किया।