इन चीजों को लेने से नहीं आएगा बुढ़ापा

 
बुढ़ापा जिंदगी का आखिरी पड़ाव है, जिसमें कमजोरी, भूलने की बीमारी, ढीली और झुर्रिदार त्वचा जैसी दिक्कतें आ जाती हैं। लेकिन 5 चीजों को लेने से बुढ़ापे को रोका जा सकता है। इनमें एंटी एजिंग गुण भरे होते हैं, जो आपको 50 के बाद भी बूढ़ा नहीं होने देंगे।

बुढ़ापा कैसे रोकें? बुढ़ापा उम्र के साथ नहीं आता, बल्कि ये असल में तब आता है, जब आप इसे महसूस करने लगते हैं। अगर 50 के बाद भी आपकी शारीरिक ताकत, याददाश्त और स्किन स्वस्थ रहे तो इसे ही बुढ़ापा रोकना कहेंगे। आइए अब जानते हैं कि इस काम को करने के लिए कौन-से 5 चीजें लेनी चाहिए।

केसर से मिलने वाला क्रोसिन
क्रोसिन एक पीला कैरोटेनॉइड पिग्मेंट होता है, जो केसर में पाया जाता है। एनसीबीआई पर मौजूद शोध के मुताबिक (ref.), इसके अंदर उम्र के साथ घटने वाली दिमागी ताकत को बचाने के गुण होते हैं। साथ ही ये तत्व एंटी कैंसर, एंटी इंफ्लामेटरी, एंटी एंग्जायटी, एंटी डायबिटिक जैसे फायदे भी देता है।

हल्दी में मौजूद करक्यूमिन
हर घर में हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है। करक्यूमिन इस मसाले का सबसे मुख्य कंपाउंड है, जो उम्र बढ़ने के साथ होने वाली दिक्कतों से बचाव करता है।  करक्यूमिन से कई बीमारियों को पनपने से रोका जा सकता है।

कोलेजन
कोलेजन एक प्रोटीन है, जिसका उत्पादन उम्र बढ़ने के साथ कम होने लगता है। इसकी वजह से त्वचा की कसावट खोने लगती है और झुर्रियां आ जाती हैं। मगर सार्डिन मछली, स्ट्रॉबेरी, ब्लैकबेरी, ब्रॉकली, एलोवेरा जूस आदि में इसका उत्पादन बढ़ाने वाले गुण होते हैं।

विटामिन सी
यह एक एंटीऑक्सीडेंट है, जो ऑक्सीडेटिव डैमेज से बचाता है। यह डैमेज धीरे-धीरे इम्यून सिस्टम को कमजोर बना देता है और इंफ्लामेशन, भूलने की बीमारी, कमजोर रोशनी जैसी समस्याएं पैदा करता है। इनसे बचने के लिए अमरूद, कीवी, ब्रॉकली, नींबू, संतरा आदि से विटामिन सी लिया जा सकता है।

एंटी एजिंग है CoQ10
यह एक एंटीऑक्सीडेंट है, जिसमें एंटी एजिंग गुण होते हैं। नसों की सिकुड़न, हाई ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल आदि को कम करने में यह मदद करता है, जिससे उम्र बढ़ने के बाद भी दिल की सेहत बनी रहती है। सोयाबीन, सब्जियां और ड्राई फ्रूट खाकर इसे पा सकते हैं।

You may have missed