February 24, 2024

कांग्रेस को TMC की चेतावनी, खुद को न समझें बिग बॉस; 24 से पहले विपक्ष में फूट

नई दिल्ली
तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के वरिष्ठ सांसद सुदीप बंदोपाध्याय ने पार्टी नेताओं की एक बैठक के बाद शुक्रवार को यहां कहा कि पार्टी, कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (बीजोपी) दोनों से दूरी बनाए रखते हुए अपने रास्ते पर चलेगी। बंदोपाध्याय ने हालांकि कहा कि पार्टी फिलहाल तीसरे मोर्चे की बात नहीं कर रही और चेतावनी दी कि कांग्रेस को यह नहीं मानना चाहिए कि वह विपक्ष की 'बिग बॉस' है।

टीएमसी नहीं मानती कांग्रेस को विपक्षा का बिग बॉस
टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी के आवास पर बैठक के बाद, बंदोपाध्याय ने कहा कि आने वाले दिनों में पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी का मुकाबला करने की रणनीति बनाने के लिए शक्तिशाली क्षेत्रीय दलों के साथ विचार-विमर्श करेगी। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "हम अपने रास्ते पर चलेंगे, कांग्रेस और बीजेपी से दूरी बनाए रखेंगे। हम कोई तीसरा मोर्चा बनाने की फिलहाल बात नहीं कर रहे हैं…कांग्रेस को यह नहीं लगना चाहिए कि वह विपक्षी मोर्चे की 'बिग बॉस' है।''

सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि ममता बनर्जी बीजेपी से लड़ने के लिए शक्तिशाली क्षेत्रीय दलों के साथ बैठक करेंगी। उन्होंने कहा कि इस साल होने वाले पंचायत चुनाव और अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव, दोनों में पार्टी देश को साबित करेगी कि वह बीजेपी को अकेले दम पर पश्चिम बंगाल में कैसे रोक सकती है।

गैर-कांग्रेसी तीसरे मोर्चे के लिए कोलकाता पहुंचे अखिलेश
बता दें समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने आज कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी से मुलाकात की। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अगले सप्ताह ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से भी मिलेंगी, जो बीजू जनता दल के प्रमुख हैं। उनकी रणनीति का उद्देश्य कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को विपक्षी दलों के एक समूह के प्रमुख नेता के रूप में चित्रित करने के बीजेपी के प्रयास का मुकाबला करना है। अन्य विपक्षी दलों को अब संदेह है कि बीजेपी राहुल गांधी का उपयोग करके उन्हें निशाना बना रही है।

उधर अखिलेश यादव ने पुष्टि की है कि वे कांग्रेस और बीजेपी दोनों से समान दूरी बनाए रखना चाहते हैं। अखिलेश यादव ने कोलकाता में संवाददाताओं से कहा, "बंगाल में, हम ममता दीदी के साथ हैं। अभी हमारा रुख है कि हम बीजेपी और कांग्रेस दोनों से समान दूरी बनाए रखना चाहते हैं।"

 

You may have missed