ओमप्रकाश राजभर 2024 लोकसभा चुनाव में किधर होंगे? डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक के ये संकेत

लखनऊ  

लोकसभा चुनाव 2024 में अभी करीब एक साल है पर यूपी में मिशन 80 को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हैं। कौन किसके साथ इसको लेकर कयासबाजी जारी है। ऐसे में ओमप्रकाश राजभर को लेकर डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक द्वारा दिए गए संकेत पर चर्चा हो रही है। अयोध्या में ब्रजेश पाठक ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि राजभर से उनकी दोस्ती तब भी थी जब वह सपा के साथ थे। उन्होंने कहाकि राजभर अच्छे व्यक्ति हैं और सपा ने उनके साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि  एक स्लोगन था- कल भी आज भी और कल भी। इस बयान को लेकर सियासी गलियारों में ऐसी चर्चा है कि राजभर 2024 के चुनाव से पहले भाजपा के साथ आ सकते हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले भी डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ओमप्रकाश राजभर की तरीफ कर चुके हैं। नए साल से ठीक दिसंबर में राजभर ब्रजेश पाठक से मिले थे। इस दौरान भी डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने कहा था कि राजभर हमारे मित्र हैं। हम दोनों एक-दूसरे के पारिवारिक सदस्‍य हैं। साल का अंतिम प्रहर है। जनता की सेवा कैसे करनी है इस पर हम लोग बातचीत करते रहते हैं। हमारा अंतिम लक्ष्‍य है जनता की सेवा। राउंड द क्‍लाक इसी काम में हम लगे रहते हैं। इस बयान के बाद भी बीजेपी के साथ गठबंधन को लेकर चर्चा तेज हो गई थी। हालां‍कि दोनों नेताओं ने इसे व्‍यक्तिगत मुलाकात बताते हुए इसके पीछे किसी सियासी एजेंडे की बात से इनकार कर दिया था।

भूपेन्द्र सिंह चौधरी भी चौधरी को लेकर कर चुके हैं इशारा
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी ने भी अभी कुछ दिन पहले ओम प्रकाश राजभर को लेकर इशारा किया था। उन्होंने कहा था कि राजभर जी (सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर) हमारे साथ रहे हैं और निश्चित रूप से अगर विचारधारा से सहमत हैं तो उन्हें अपने साथ काम करने का पार्टी अवसर देगी, ऐसा मुझे विश्वास है।