लंदन में दिए बयान पर राहुल गांधी की सफाई, ‘मैंने सिर्फ देश के लोकतंत्र पर उठाए थे सवाल’

नई दिल्ली  
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लंदन में दिए गए अपने बयान को लेकर सफाई पेश की है। राहुल ने अपनी सफाई में कहा कि उन्होंने केवल देश में लोकतंत्र के हालात पर सवाल उठाए थे। भारत की G-20 की अध्यक्षता को लेकर बुलाई गई विदेश मंत्रालय की कंस्लटेटिव कमेटी की बैठक में राहुल गांधी ने कहा कि मैंने सिर्फ यह कहा था कि यह हमारा आंतरिक मामला और हम इसका हल निकाल लेंगे।

शुरुआती सत्र में राहुल गांधी ने कोई टिप्पणी नहीं की,लेकिन अंत में वह कई विषयों पर बोलने लगे। उनका कहना था कि अन्य सांसदों ने भी विषय से हट कर बोला, इसे लेकर भाजपा सांसदों ने उन्हें टोका और अन्य विपक्षी सांसदों तथा बीजेपी सांसदों के बीच तीखी बहस भी हुई।

 
राहुल गांधी को जयशंकर का तीखा जवाब
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि उन्हें यह देखकर दुख होता है कि कोई चीन पर हंस रहा है और भारत के बारे में उपेक्षा कर रहा है। विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने राजधानी के ताज पैलेस में इंडिया टुडे कॉन्क्लेव के 20वें संस्करण में शनिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा हाल ही में दिए गए बयानों का जवाब देते हुए कहा कि भारत के नागरिक के रूप में यह देखना परेशान करने वाला था कि ‘‘किसी को चीन पर लार टपक रही है।'' उन्होंने कहा, ‘‘जब गले लगाने वाले पांडा चीन का बाज़ बनने की कोशिश करते हैं…तो वह उड़ता नहीं है।''
 

राहुल गांधी के हाल ही में ब्रिटेन में दिए गए संबोधन के बारे में पूछे जाने पर जयशंकर ने कहा कि मैं भारत के नागरिक के रूप में परेशान हूं, जब मैं किसी को चीन के बारे में रोते हुए और भारत के हितों को खारिज करने की कोशिश खारिज करता हूं। राहुल गांधी कहते हैं कि चीन सबसे बड़ा निर्माता है और कहते हैं कि ‘मेक इन इंडिया' काम नहीं करेगा। विदेश मंत्री ने राहुल गांधी को तीखा जवाब देते हुए कहा, ‘‘देश के बारे में आपके विचार हो सकते हैं, लेकिन आपको राष्ट्रीय मनोबल को कम नहीं करना चाहिए।''

 

You may have missed