अनुज होली पार्टी में सबके सामने अनुपमा को सुनाएगा खरी-खोटी

मुंबई

रुपाली गांगुली, सुधांशु पांडे, मदालसा शर्मा और गौरव खन्ना स्टारर टीवी जगत के हिट सीरियल 'अनुपमा'  की कहानी में माया और छोटी अनु के जाने से बहुत कुछ बदल गया है। सीरियल में दिखाया जा रहा है कि जब से छोटी अनु गई है तब से अनुज और अनुपमा का रिश्ता भी खराब चल रहा है। ऐसे में अपकमिंग एपिसोड्स में आप देखेंगे कि अनुपमा होली का त्योहार सेलिब्रेट करने के लिए बिना अनुज के ही होली पार्टी में पहुंच जाती है, जहां अनुपमा शाह परिवार के साथ होली खेलने लगती है और सभी के साथ मुस्कुराने लगती है। लेकिन इसी बीच उसे सपना आता है जिसमें वह अनुज को देखती है। आखिर में अनुपमा कहती है कि ये सपना था और शायद सपना ही रह जाएगा।

होली पार्टी में तब ही अचानक अनुज आ जाता है, जहां वह देखता है कि अनुपमा शाह परिवार के साथ होली का त्योहार खुशी-खुशी सेलिब्रेट कर रही है। अनुपमा को खुश और मुस्कुराते देख अनुज को एक बार फिर छोटी की याद सताने लगती है। अनुज को लगता है कि अनुपमा सबके साथ इंजॉय कर रही है और वो अकेला हो गया है। अनुज ऐसा सोच ही रहा होता है कि अनुपमा की नजर अनुज पर पड़ जाती है और वह खुशी से गुलाल लेकर अनुज को लगाने चली जाती है। अनुपमा, अनुज को होली की बधाई देते हुए गुलाल लगाती है लेकिन इस दौरान अनुज बिल्कुल खुश नहीं होता।

अनुपमा पर चिल्लाएगा अनुज
अनुपमा, अनुज से कहती है कि आप मेरे रंग नहीं लगाएंगे? इस पर अनुज कहता है कि तुम्हारे लिए ये होली रंगीन हो सकती है लेकिन मेरे लिए नहीं। इसके बाद अचानक भरी महफिल में अनुज जोर से अनुपमा पर चिल्लाने लगता है, जिसे सुनकर सभी हैरान हो जाते हैं और पूछने लगते हैं कि सब ठीक तो है न अनुज। इसके बाद अनुपमा, अनुज से पूछती है कि क्या हुआ। इस पर अनुज कहता है कि तुम पूछ रही हो कि क्या हुआ… अनुज कहता है कि जिस मां की बेटी गई हो वो नाच रही है और गा रही है। अनुज कहता है कि मेरे आंसू भी नहीं सूखे और तुम अपने परिवार के साथ खुशियां मना रही हो। अनुज कहता है कि तुम कहती थी कि छोटी अनु हमारी बेटी है तो तुम उसे इतना जल्दी कैसे भूल गई।

अनुज का शाह परिवार पर भी फूटेगा गुस्सा
अनुज, अनुपमा से कहता है कि इस होली में न मैं हूं और न मेरी बेटी लेकिन तुमको कोई फर्क नहीं पड़ता। अनुज गुस्साते हुए कहता है कि हो सकता है कि ये होली तुम्हारी और रंगीन हो, क्योंकि इस होली पर तुमसे मेरी बेटी ही जिम्मेदारी भी चली गई। अनुज गुस्साते हुए पागलों जैसी हरकत करने लगता है और जबरदस्ती अपने रंग लगाने लगता है। इसके बाद अनुज बाकी घर वालों पर भी ताने देते हुए चिल्लाता है। आखिर में अनुज कहता है कि ये होली तुम्हारी हैप्पी होगी लेकिन मेरे लिए नहीं। इसके बाद अनुज वहां से चला जाता है। अनुज के जाने पर समर कहता है कि मेरी मम्मी से कोई ऐसे बात नहीं कर सकता। इस पर अनुपमा कहती है कि बात भले ही सब के सामने हुई हो लेकिन मेरे और मेरे पति के बीच बोलने का किसी को कोई अधिकार नहीं है।

अनुपमा पर तंज कसेगा वनराज
होली पार्टी के बाद शाह परिवार में सभी अनुज और अनुपमा के बीच हुई तकरार की बात करेंगे। ऐसे में वनराज अनुपमा पर तंज कसते हुए कहता है कि अनुपमा को लगता था कि अनुज बिल्कुल परफेक्ट है और सबसे महान आदमी है। लेकिन अब सब को पता चल गया होगा कि अनुज को भी गुस्सा आता है और वो भी गलत हो सकता है। अब देखना होगा आने वाले समय में अनुज और अनुपमा का रिश्ता सुधरता है या फिर दोनों के बीच की दूरियां और बढ़ जाएंगी।