आईपीएल 2023 में बदले कितने नियम और कायदे, किन नए रूल्स को मिली जगह?

 नई दिल्ली

आईपीएल 2023 का आगाज होने में अब महज कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं, मगर टूर्नामेंट से जुड़े नियम कायदों की खबरें हर दूसरे दिन सामने आ रही है। 31 मार्च से शुरू हो रहे आईपीएल का 16वां सीजन नए रूप में खेला जाएगा। टूर्नामेंट के कई नियम कायदों को बदल दिया गया है, वहीं कई नए रूल्स भी जोड़े गए हैं। नए नियमों में इंपैक्ट प्लेयर के साथ सभी टीमों को टॉस के बाद प्लेइंग इलेवन चुनने की आजादी होगी। वहीं विमेंस प्रीमियर लीग की तरह टीमें डीआरएस का इस्तेमाल वाइड और नो बॉल जैसी अन्य चीजों के लिए भी कर सकती है। आइए आईपीएल 2023 के नए नियम कायदों पर एक नजर डालते हैं-
 

IPL 2023 के नियम और कायदे:

-इंपैक्ट प्लेयर- BCCI ने IPL 2023 में इंपैक्ट प्लेयर रूल पेश किया, आईपीएल के इतिहास में पहली बार इस नियम का इस्तेमाल किया जाएगा। इसमें टीम को 11 की जगह 12 खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका मिलेगा। जब भी टीम को इंपैक्ट प्लेयर का इस्तेमाल करना होगा तो अंपायर मैदान पर हाथ से क्रॉस सिग्नल दिखाएंगे। (यहां पढ़ें क्या है इंपैक्ट प्लेयर नियम)

-टॉस के बाद प्लेइंग XI का चयन- कप्तान IPL 2023 के मैचों के दौरान दो टीम शीट लेकर टॉस के लिए आएंगे। टॉस जीतने या हारने के बाद उनको क्या करना है, इसका फैसला वे तुरंत लेंगे और इसके बाद उन्हें कोई एक टीम शीट सौंपनी होगी, जो मैदान पर उतरेगी। अभी तक कप्तानों को टीम शीट को मैच से पहले मैच ऑफिशियल्स को हैंडओवर करना होता था।

-कैच आउट होने पर, भले ही बल्लेबाजों ने क्रॉस किया हो या नहीं, आने वाला बल्लेबाज स्ट्राइक लेगा, सिवाय इसके कि यह ओवर की आखिरी गेंद हो

-यदि कोई भी टीम COVID-19 के कारण अपने प्लेइंग इलेवन पूरा करने में विफल रहती है, तो BCCI मैच को रिशेड्यूल करेगी। वहीं खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें 7 दिन के आईसोलेशन से गुजरना होगा और नेगेटिव परीक्षण करने के बाद ही वह टीम के साथ जुड़ सकते हैं।

-प्लेऑफ़/फ़ाइनल में: यदि सुपर ओवर या उसके बाद के सुपर ओवर किसी कारण से पूरे नहीं हो पाते हैं तो लीग में टॉप करने वाली टीम को विजेता घोषित किया जाएगा।

You may have missed