जेपी नड्डा- Rahul Gandhi की समझ छोटी, पर अहंकार बहुत बड़ा

नईदिल्ली

कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सूरत कोर्ट की ओर से सजा सुनाए जाने के बाद सत्ता पक्ष और विपक्ष की ओर से इस फैसले पर लगातार प्रतिक्रिया आ रही है. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस नेता ने अपने अहंकार के आगे ओबीसी समाज की भावनाओं को आहत किया. उनकी समझ बहुत छोटी है. यह ओबीसी समाज राहुल से इस अपमान का बदला लेगा.

जेपी नड्डा ने कई ट्वीट कर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला किया. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, “सूरत की सेशंस कोर्ट ने गुरुवार को ओबीसी समाज के प्रति आपत्तिजनक बयान पर राहुल गांधी को सजा सुनाई है. लेकिन वो और उनकी कांग्रेस पार्टी अभी भी अपने अहंकार के आगे अपने बयान पर अड़ी रही जिसने ओबीसी समाज के लोगों की भावनाओं को आहत भी किया. अब पूरा अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) का समाज प्रजातांत्रिक ढंग से राहुल गांधी से उनके इस अपमान का बदला लेगा.”

    कल सूरत कोर्ट ने राहुल को OBC समाज के प्रति उनके आपत्तिजनक बयान के लिए सजा सुनाई है।परंतु राहुल व कांग्रेस पार्टी अभी भी अपने अहंकार के चलते लगातार अपने बयान पर अड़े व निरंतर OBC समाज की भावनाओं को आहत कर रहे हैं। पूरा OBC समाज प्रजातांत्रिक ढंग से राहुल से इस अपमान का बदला लेगा।

ओबीसी समाज की भावना को ठेस पहुंचाईः नड्डा

नड्डा ने राहुल गांधी पर अहंकारी होने का आरोप लगाते हुए कहा, “कांग्रेस नेता राहुल गांधी का अहंकार बहुत बड़ा है, उनकी समझ बहुत छोटी है. राहुल ने अपने राजनीतिक लाभ के लिए पूरे ओबीसी समाज का ही अपमान कर डाला. उन्हें चोर करार दे दिया. उन्होंने समाज और कोर्ट की ओर से बार-बार समझाने और माफी मांगने के सुझाव को भी नजरअंदाज कर दिया. साथ ही और OBC समाज की भावना को लगातार ठेस पहुंचाई.

    राहुल गांधी का अहंकार बहुत बड़ा और समझ बहुत छोटी है। अपने राजनीतिक लाभ के लिए उन्होंने पूरे OBC समाज का अपमान किया। उन्हें चोर कहा। समाज और कोर्ट के द्वारा बार-बार समझाने और माफ़ी माँगने के विकल्प को भी उन्होंने नज़रअंदाज़ किया और लगातार OBC समाज की भावना को ठेस पहुँचाई।

राहुल गांधी पर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राफेल का मुद्दा उठाए जाने के वाकये पर भी जेपी नड्डा ने कहा कि राहुल गांधी को मनगढ़ंत आरोप लगाने की आदत है. 5 साल पहले 2019 के लोकसभा चुनाव से पूर्व राहुल गांधी ने राफेल जेट विमान सौदे के नाम पर देश को लगातार भ्रमित करने की कोशिश की. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें कड़ी फटकार लगाई. जिसके बाद उन्हें इसके लिए बिना शर्त माफी मांगनी पड़ी थी.

सूरत की कोर्ट ने सुनाई थी 2 साल की सजा

इससे पहले कल गुरुवार दोपहर को सूरत की सेशंस कोर्ट ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और लोकसभा सांसद राहुल गांधी को आपराधिक मानहानि मामले में दोषी ठहराते हुए 2 साल की सजा सुना दी. हालांकि कोर्ट ने राहुल गांधी को जमानत देते हुए सजा के अमल पर 30 दिनों के लिए रोक भी रोक लगा दी. ऊपरी अदालत में अपील के लिए यह मोहलत दी गई है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान कर्नाटक में प्रचार के वक्त मोदी सरनेम को लेकर कथित तौर पर टिप्पणी की थी. इस टिप्पणी के खिलाफ बीजेपी के एक नेता की ओर से केस दर्ज कराया गया था.