‘कानून का हो रहा है दुरुपयोग, हम इसे बदलने के लिए सरकार को मजबूर कर देंगे’: बृजभूषण सिंह

 नई दिल्ली

 देश की राजधानी दिल्ली में जंतर मंतर पर धरने पर बैठे पहलवान खिलाड़ियों के आरोपों का सामना कर रहे, भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के पूर्व अध्यक्ष और कैसरगंज (Kaisarganj) से बीजेपी (BJP) सांसद बृजभूषण शरण सिंह (Brij Bhushan Sharan Singh) ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, इस कानून का दुरुपयोग हो रहा है और हम संतों के नेतृत्व में इस कानून को बदलने के लिए सरकार को 'मजबूर' कर देंगे। यह बाते बीजेपी सांसद ने गुरुवार को बहराइच में कही थी।

बता दें कि, बृजभूषण शरण सिंह पर कुछ महिला पहलवान खिलाड़ियों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए है। इसके लिए खिलाड़ी पिछले एक महीने से जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन कर रहे है। पहलवानों की अपील पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी। सिंह पर एक मामला पॉक्सो (यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण) अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत दर्ज किया गया था।

मेरे खिलाफ सभी आरोप बेबुनियाद हैं: सिंह
बृजभूषण शरण सिंह ने आगामी पांच जून को अयोध्या में संतों की रैली का आह्वान किया है। जिसमें उन्होंने 11 लाख संतों के पहुंचने का दावा किया है। इसी रैली की तैयारी को लेकर आज सिंह ने एक सभा को संबोधित किया। सभा में BJP सांसद ने पॉक्सो कानून और उसके प्रावधानों का विरोध करते हुए दावा किया कि इसका बड़े पैमाने पर दुरूपयोग हो रहा है। उनका कहना था कि इस कानून का बच्चों, बुजुर्गों एवं संतों के खिलाफ दुरूपयोग हो रहा है तथा अधिकारी तक इसके दुरुपयोग से अछूते नहीं हैं। उन्होंने कहा,‘‘ संतों की अगुवाई में हम सरकार को कानून (पॉक्सो) बदलने के लिए मजबूर कर देंगे। मेरे खिलाफ सभी आरोप बेबुनियाद हैं। इनके पास मेरे खिलाफ कोई भी सबूत नहीं है।’’