प्रियंका छोड़ सकती हैं UP का प्रभार, अब कौन उठाएगा कांग्रेस का भार; क्या है प्लान

नई दिल्ली

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का भार संभाल रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा प्रभारी पद छोड़ सकती हैं। खबरें हैं कि पार्टी उन्हें मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सक्रिय रहने की जिम्मेदारी दे सकती है। कहा जा रहा है कि कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की जीत के बाद इस फैसले पर विचार किया जा रहा है। प्रियंका की अगुवाई में यूपी विधानसभा चुनाव लड़ी कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था।

घोषित नतीजों के अनुसार, 399 सीटों पर मैदान में थी, लेकिन 2 ही सीटें जीत सकी थी। इतना ही नहीं पार्टी की 387 सीटों पर जमानत जब्त हो गई थी। पार्टी की इस हार के बाद से ही प्रियंका ने यूपी का दौरा नहीं किया है। हालांकि, इस दौरान वह कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में खासी सक्रिय रहीं और कांग्रेस ने दोनों राज्यों में सरकार बनाई।

कौन होगा अगला प्रभारी
संभावनाएं जताई जा रही हैं कि 2024 लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए कांग्रेस को जल्दी नया प्रभारी मिल सकता है। एक मीडिया रिपोर्ट में कांग्रेस के एक नेता के हवाले से बताया गया, 'प्रियंका गांधी चुनावी राज्यों में पार्टी के प्रचार अभियान में शामिल रहेंगी, तो वह नजदीक आते लोकसभा चुनाव के बीच यूपी को पर्याप्त समय नहीं दे पाएंगी। वह जल्दी पद छोड़ सकती हैं और उनके स्थान पर नया प्रभारी आएगा।'

कहा जा रहा है कि इस पद के लिए उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और वरिष्ठ कांग्रेस नेता तारिक अनवर के नामों पर चर्चा चल रही है। रावत यूपी में रह रहे उत्तराखंड के मतदाताओं को लुभाने में मददगार हो सकते हैं। वहीं, अनवर की नियुक्ति कांग्रेस को मुस्लिम मतदाताओं के मोर्च पर फायदा पहुंचा सकती है। हालांकि, इनके अलावा भी कई और नेताओं पर चर्चा की जा सकती है।

रिपोर्ट के अनुसार, सूत्रों ने बताया है कि कांग्रेस यूपी में अध्यक्ष बदलने पर विचार नहीं कर रही है। संभावनाएं हैं कि 2024 लोकसभा चुनाव तक बृजलाल खाबरी ही कांग्रेस की कमान संभालते रहेंगे। 2019 में कांग्रेस ने प्रियंका को यूपी पूर्व का प्रभारी बनाया था, लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद उन्हें पूरे राज्य की जिम्मेदारी दे दी गई।