लोगों को रोजगार देने वाले 17 हजार से ज्यादा निवेशों का ‘शुभारंभ’

उज्जैन

उज्जैन में शुक्रवार से शुरु हुई रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव में  गोल्ड क्रेस्ट सीमेंट नीमच के सगराना में 34 सौ करोड़ का निवेश करेगी। इससे प्रदेश के 1716 लोगों को रोजगार मिलेगा। वहीं टीएसीसी देवास जिले के सोनकच्छ विधानसभा क्षेत्र के औद्योगिक क्षेत्र सिरसौदा में 1850 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इसमें 750 लोगों को रोजगार मिल सकेगा। इन दोनो उद्योगों की स्थापना के लिए आज मुख्यमंत्री मोहन यादव ने रीजनल इंडस्ट्रियल समिट से वर्चुअल रुप से भूमिपूजन भी कर दिया। प्रदेश में 63 से अधिक उद्योंगों द्वारा 10 हजार 299 करोड़ 45 लाख रुपए का निवेश किया जा रहा है जिससे 17 हजार 268 लोगों को रोजगार मिल सकेगा। इन सभी के लिए आज भूमिपूजन और लोकार्पण भी किया गया।

उज्जैन क्षेत्रीय उद्योग कार्यालय के तहत में कुल 2 हजार 167 करोड़ रुपए का निवेश किया गया जिससे 8 हजार 552 लोगों को रोजगार मिल सकेगा। भोपाल क्षेत्रीय कार्यालय के अंतर्गत 432 करोड़ 20 लाख रुपए का निवेश किया गया जिसमें 478 लोगों को रोजगार मिलेगा। नर्मदापुरम क्षेत्रीय कार्यालय के तहत कुल 215 करोड़ के निवेश से 550 लोगों को रोजगार मिलेगा। सागर  में 257 करोड़ के निवेश से 800 लोगोें को रोजगार मिल सकेगा। ग्वालियर क्षेत्रीय कार्यालय के अंतर्गत 780 करोड़ के निवेश से 552 लोगों को रोजगार मिल सकेगा। इसी तरह रीवा, जबलपुर क्षेत्रीय कार्यालय के अंतर्गत भी करोड़ों रुपए के उद्योगों की शुरुआत के लिए भूमिपूजन और लोकार्पण किया गया। 

घट्टिया विधानसभा क्षेत्र में आरपीएसपीएल, सुधाकर पीवी प्रॉडक्टस, श्रीनिवास फार्मा केम, श्रीजी पॉलिमर्स मेडिकल डिवाइसेस, आईआरईएस इंडिया,  एचसी लाईफ लाईन, वन सूशी, या सेन इंडिया, बॉयोलाईन इंडिया, विरोहना हेल्थ प्राइवेट लिमिटैड निवेश कर रही है।  उजज्ैन दक्षिण में व्यंकटेश कोरुगेटर्स, देवास में नवकार टैक्सटाईल्स,  मंगला इंजीनियरिंग, सोनकच्छ में टीएसीसी, नीमच में गोल्ड क्रेस्ट सीमेंट, रतलाम में तेज प्रकाश फूड प्रॉडक्ट, आदित्य फूडस, रुही कॉर्पोरेशन, भोपाल के अचारपुरा में लावा ट्रांस्पावर ब्रजगोपाल इंडस्ट्रीज, एमटेक इंडस्ट्रीज, नानकदेव इंडस्ट्री निवेश करेंगी।

उज्जैन और इंदौर में 644 एकड़ भूमि पर लगेंगे प्लांट
उज्जैन और इंदौर संभाग के जिलों में रीजनल इण्डस्ट्री कॉन्क्लेव में 644.97 एकड़ भूमि पर विभिन्न औद्योगिक इकाइयों द्वारा विभिन्न उत्पादों के प्लांट लगाए जाएंगे, जिसमें लगभग 8014.94 करोड़ का निवेश प्रस्तावित है, जिसके माध्यम से 12 हजार से अधिक लोगों को रोजगार प्राप्त हो सकेगा।

यहां भूमि पूजन और लोकार्पण
मुख्यमंत्री डॉ. यादव द्वारा रीजनल इण्डस्ट्री कॉन्क्लेव में प्रदेश के 12 से अधिक औद्योगिक स्थानों पर विभिन्न इकाईयों का वर्चुअल भूमि पूजन एवं लोकार्पण किया जा रहा है। औद्योगिक विकास के प्रति जन-जागरूकता प्रदेश के कोने-कोने पहुंचाने के लिये लोकार्पण एवं भूमि पूजन के इन कार्यक्रमों को स्थानीय स्तर पर वृहद रूप दिया जा रहा है।

कल यह होगा
उज्जैन में रीजनल इण्डस्ट्री कॉनक्लेव में 2 मार्च को प्रात: 10.30 बजे से 12.30 बजे तक मुख्यमंत्री डॉ.यादव द्वारा उद्योगपतियों से वन-टू-वन चर्चा भी की जाएगी।  इस दौरान प्रमुख रूप से धार्मिक पर्यटन और फिल्म पर्यटन और फार्मा मेडिकल डिवाइसेस के अवसर और चुनौतियों पर सत्र आयोजित किये जाएंगे। दोपहर में 12.50 से एक बजे तक सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम विभाग  पी.नरहरि द्वारा द फ्यूचर रेडी स्टेट अ वे फारवर्ड पर संबोधन आयोजित किया जाएगा। दोपहर एक बजे से 1.10 बजे तक उद्योगपतियों के संबोधन का सत्र आयोजित किया जाएगा। इसके पश्चात दोपहर 1.10 से 1.20 बजे तक मुख्यमंत्री डॉ.यादव द्वारा कार्यक्रम को संबोधित किया जाएगा। दोपहर 1.30 से 1.45 बजे तक  केबिनेट मंत्री पीयूष गोयल द्वारा वर्चुअली कार्यक्रम को संबोधित किया जाएगा।