देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने पुरानी स्कीम वाले स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा जून में, चार हजार विद्यार्थी भरेंगे फार्म

इंदौर
पुरानी परीक्षा स्कीम के अंतर्गत स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा को लेकर विद्यार्थियों को थोड़ा इंतजार करना होगा। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने यह परीक्षा जून में प्रस्तावित की है, जिसमें सिर्फ स्वाध्यायी छात्र-छात्राएं बैठ सकेंगे। इनके आवेदन की प्रक्रिया अप्रैल में शुरू की जाएगी। विद्यार्थियों को तीस दिन में परीक्षा फार्म भरना होंगे। अधिकारियों के मुताबिक इन विद्यार्थी की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन भी जल्द करवाया जाएगा।

विश्वविद्यालय प्रशासन ने पांच मार्च से राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत स्नातक अंतिम वर्ष रखी है, जिसमें 45 हजार विद्यार्थी सम्मिलित होंगे। उसमें डेढ़ हजार छात्र-छात्राएं पुरानी परीक्षा स्कीम वाले शामिल है। बीए, बीकाम, बीएससी, बीएचएससी, बीजेएमसी, बीबीए, बीसीए सहित अन्य कोर्स की परीक्षा जून तक चलेगी। इन विद्यार्थियों की उत्तर पुस्तिका जांचने का काम 400 शिक्षक करेंगे।

अधिकारियों के मुताबिक पुरानी परीक्षा स्कीम वाले विद्यार्थियों की परीक्षा 15 जून छात्र-छात्राओं की संख्या है। परीक्षा नियंत्रक डा. अशेष तिवारी का कहना है कि इन विद्यार्थियों के आवेदन अप्रैल से मई के बीच भरवाएंगे। पुरानी स्कीम में सिर्फ नौ विषय की परीक्षा होगी। इनकी उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 20 दिन में करवाने की डेडलाइन रखी है। वे बताते है कि एनईपी और पुरानी स्कीम वाले विद्यार्थियों का रिजल्ट जुलाई में घोषित किया जाएगा।

जुलाई में प्रथम व द्वितीय वर्ष होंगे पेपर
लोकसभा चुनाव की वजह से विश्वविद्यालय की परीक्षा का शेड्यूल बुरी तरह बिगड़ चुका है। अप्रैल-मई में होने वाले स्नातक प्रथम व द्वितीय वर्ष की परीक्षा दो महीने आगे बढ़ चुकी है। इन छात्र-छात्राओं की परीक्षाएं जुलाई में करवाई जाएगी। दोनों पाठ्यक्रम में सवा लाख छात्र-छात्राएं है। इन्हें एकेडमी बैंक आफ क्रेडिट (एबीसी) में भी पंजीयन करने को कहा है। वहां से आइडी बनने के बाद विद्यार्थी फार्म भर सकेंगे।

You may have missed