दोनों ही स्वास्थ्यवर्धक कैप्सूल में स्टेरायड अत्याधिक मात्रा में पाया गया, यूपी में इन दो कैप्सूल की बिक्री पर बैन

लखनऊ
अगर आप ताकत बढ़ाने के लिए गुड हेल्थ और पौरुष जीवन कैप्सूल का सेवन कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। इन दोनों ही स्वास्थ्यवर्धक कैप्सूल में स्टेरायड अत्याधिक मात्रा में पाया गया है। जो अपका स्वास्थ्य बनाने की बजाए उसे बिगाड़ने का काम कर रहा है। राजधानी में आयुर्वेदिक प्रयोगशाला में जांच के लिए महाराजगंज जिले से इन दोनों कैप्सूल के भेजे गए सैंपल जांच में फेल हो गए हैं। जांच में अत्याधिक स्टेरायड मिलने के कारण आयुष विभाग ने प्रदेश भर में इसकी बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं।
 
सभी क्षेत्रीय आयुर्वेदिक व यूनानी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्र में इन दोनों कैप्सूल के स्टाक की जांच करें और तत्काल इसकी बिक्री पर रोक लगाई जाए। आयुर्वेदिक दवाएं बेचने वाले थोक व फुटकर विक्रेता को इन दोनों ही कैप्सूल की बिक्री न करने के सख्त दिए गए हैं। स्टेरायड का मानक के अंदर ही प्रयोग किया जाना चाहिए।

जांच में फेल हुए सैंपल
अगर यह मानक से अधिक है तो इससे शरीर में गंभीर बीमारियां होने का खतरा रहता है। हर जिले से इसके स्टाक की जानकारी ली जा रही है और उसकी बिक्री पर रोक लगाई जा रही है। महाराजगंज जिले के क्षेत्रीय आयुर्वेदिक व यूनानी अधिकारी डॉ. एचपी जैसवार ने शिकायत मिलने पर इन दोनों कैप्सूल के सैंपल जांच के लिए लखनऊ की आयुर्वेदिक प्रयोगशाला भेजा था और जांच में यह सैंपल फेल हो गए।