आंध्र में जिस ट्रेन हादसे में गई 14 जानें, उसे लेकर बड़ा खुलासा, ‘मोबाइल पर क्रिकेट देख रहे थे लोको पायलट’

विजय नगरम/हैदराबाद.

आंध्र प्रदेश के विजय नगरम जिले में पिछले साल 29 अक्तूबर को दो रेलगाड़ियों की टक्कर हुई थी। इस हादसे में करीब 14 लोगों की जान चली गई थी। उस समय ईस्ट कोस्ट रेलवे का मानना था कि यह हादसा मानवीय भूल के कारण हुआ है। हालांकि, अब बड़ा खुलासा हुआ है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने दावा किया है कि जब दो रेलगाड़ियों की टक्कर हुई थी, उस समय एक ट्रेन का लोको पायलट और सहायक लोको पायलट मोबाइल फोन पर क्रिकेट मैच देख रहे थे।

अश्विनी वैष्णव  ने बताया कि उस दिन शाम सात बजे आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले के कंटाकापल्ली में हावड़ा-चेन्नई मार्ग पर रायगड़ा यात्री रेलगाड़ी ने विशाखापत्तनम पलासा ट्रेन में पीछे से टक्कर मार दी थी, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई थी और 50 से अधिक यात्री घायल हुए थे। वैष्णव ने नए सुरक्षा उपायों के बारे में बात करते हुए आंध्र ट्रेन दुर्घटना का जिक्र किया, जिन पर भारतीय रेलवे काम कर रहा है। रेल मंत्री ने कहा, ‘आंध्र प्रदेश में मामला तब हुआ जब लोको पायलट और सह-पायलट दोनों का ध्यान क्रिकेट मैच की वजह से भटक गया था। अब हम ऐसी प्रणाली स्थापित कर रहे हैं जो ऐसे किसी भी विकर्षण का पता लगा सकती है और यह सुनिश्चित कर सकती है कि पायलट और सहायक पायलट पूरी तरह से ट्रेन चलाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।’