20 करोड़ नहीं मिले तो पूरे कर्नाटक के सार्वजनिक जगहों में बड़े विस्फोट करेंगे, CM सिद्धारमैया को धमकी

बेंगलूरू
कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया समेत कई सीनियर मंत्रियों को धमकी भरा मेल आया है। खबर के मुताबिक, ये धमकियां खासतौर से सीएम सिद्धारमैया, उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार और राज्य के गृह मंत्री जी परमेश्वर सहित प्रमुख हस्तियों को भेजी गईं। मेल आईडी Shahidkhan10786@protonmail.com. से ये धमकी आई है। मेल में लिखा है, 'मूवी का ट्रेलर कैसा लगा? अगर हमें 2.5 मिलियन डॉलर (207,236,778 रुपये) नहीं मिले तो पूरे कर्नाटक के बसों, ट्रेनों, मंदिरों, होटलों और सार्वजनिक जगहों में बड़े विस्फोट करेंगे।'

दरअसल, कुछ दिनों पहले ही बेंगलुरु में रामेश्वर कैफे में विस्फोट हुआ था जिसमें करीब 10 लोग घायल हो गए थे। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) बीते 1 मार्च की इस घटना को लेकर जांच कर रही है। एनआईए ने मामले में मंगलवार को चेन्नई और रामनाथुरुम जिले में छापे मारे। रिपोर्ट के मुताबिक करीब 4-5 जगहों पर छापेमारी की जा रही है। एनआईए अधिकारियों ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर औपचारिक मामला दर्ज करके जांच अपने हाथ में ली है। इसके एक दिन बाद यह पता लगाने के लिए छापेमारी की कि बेंगलुरु कैफे विस्फोट के तमिलनाडु के किसी संगठन से कोई संबंध है या नहीं। इस मामले में कर्नाटक पुलिस की जांच में एनआईए, राष्ट्रीय सुरक्षा समूह (NSG) और खुफिया ब्यूरो (IB) के अधिकारियों ने भी मदद की है।

CCTV फुटेज के आधार पर अपराधी की पहचान
शुरुआती जांच में विस्फोट में कर्नाटक के बाहर के लोगों के साथ कुछ संदिग्ध संबंधों की संलिप्तता का पता चला है, जिसके कारण केंद्रीय गृह मंत्रालय ने जांच NIA को सौंपी। उत्तरी चेन्नई के मन्नाडे और मुथियालपेट और दक्षिणी रामनाथपुरम जिले में भी छापेमारी की जा रही है। पुलिस ने CCTV फुटेज के आधार पर उस अपराधी की पहचान कर ली है जिसने उस कैफे में IED से भरा बैग रखा था, उसे पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। अधिकारियों को विस्फोट स्थल से बस में यात्रा करने वाले अपराधी के कर्नाटक से किसी पड़ोसी राज्य में भाग जाने का भी संदेह है।