इज़राइल-लेबनान सीमा के ऊपर आसमान में दर्जनों मिसाइलें रोकी गईं, एक ओर जंग की तैयारी

तेलअवीव

ईरान अगले 48 घंटों के भीतर इजरायल पर बड़ा हमला कर सकता है. इजराइल का अपने पुराने दुश्मन ईरान के साथ टकराव तब हो रहा है जब वह गाजा में हमास के साथ जंग लड़ रहा है. वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक ईरान अभी भी इज़राइल पर डायरेक्ट अटैक के राजनीतिक जोखिमों का आकलन कर रहा है. इसी बीच अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन की प्रतिक्रिया भी सामने आ गई है. बाइडेने ने ईरान को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि वह इजरायल पर अटैक न करे. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ईरान जल्द हमला करेगा. उन्होंन इस मामले में तेहरान को आगे न बढ़ने की चेतावनी भी दी.

बाइडेन बोले- जल्द हो सकता है हमला

जब बाइडेन से ईरान के मंसूबों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अमेरिका इजरायल की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है. बाइडेन ने कहा कि वह जानकारी का खुलासा नहीं करेंगे, लेकिन उन्होंने कहा कि उन्हें आशंका है कि ये हमला जल्द हो सकता है.

इज़राइल-लेबनान बॉर्डर पर 40 मिसाइलें इंटरसेप्ट की

इसी बीच सर्विलांस फ़ुटेज में हैरान करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं. इज़राइल-लेबनान बॉर्डर पर दर्जनों मिसाइलों को इंटरसेप्ट किया गया है. देर रात एक सर्विलांस फुटेज में उस दृश्य को कैद किया गया, जब इज़राइल-लेबनान सीमा के ऊपर आसमान में दर्जनों मिसाइलें रोकी गईं. इजरायली सेना ने एक बयान में कहा कि लेबनानी क्षेत्र से आने वाले लगभग 40 मिसाइलों की पहचान की गई है. बयान में कहा गया कि ज्यादातर मिसाइलों को रोक दिया गया, जबकि बाकी खुले इलाकों में गिरीं. किसी के घायल होने की सूचना नहीं है.

इजरायल ने की जवाबी हमले की तैयारी

सीरिया की राजधानी दमिश्क में ईरान के दूतावास में एक वरिष्ठ अधिकारी की पिछले सप्ताह हुई हत्या के लिए जवाबी कार्रवाई की चेतावनी मिलने के बाद इजराइल ने ईरान या उसके प्रतिनिधियों द्वारा हमले के लिए तैयारी कर ली है. हालांकि इज़राइल ने 1 अप्रैल को हवाई हमले की ज़िम्मेदारी का दावा नहीं किया, जिसमें ब्रिगेडियर जनरल मोहम्मद रज़ा ज़ाहेदी, ईरानी रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स के विदेशी कुद्स फोर्स के एक वरिष्ठ कमांडर और 6 अन्य अधिकारी मारे गए थे.

भारत ने जारी की एडवाइजरी

इसी बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने ईरान और इजरायल के लिए ट्रैवल एडवाइजरी जारी की है और सभी भारतीयों को अगली सूचना तक ईरान या इजरायल की यात्रा न करने की सलाह दी है. मंत्रालय ने ईरान और इजरायल में मौजूद भारतीयों से अनुरोध किया है कि वे भारतीय दूतावास के साथ संपर्क में रहें और अपना रजिस्ट्रेशन करवाएं. यह एडवाइजरी उन रिपोर्ट्स के बीच जारी की गई है जिनमें कहा जा रहा है कि ईरान अगले 48 घंटों के भीतर इजरायल पर हमला कर सकता है. मंत्रालय ने उन भारतीयों से भारतीय दूतावास के साथ संपर्क में रहने और अपना रजिस्ट्रेशन कराने का अनुरोध किया है जो वर्तमान में ईरान या इजरायल में रह रहे हैं. विदेश मंत्रालय ने कहा, 'उनसे यह भी अनुरोध किया जाता है कि वे अपनी सुरक्षा के बारे में अत्यधिक सावधानी बरतें और अपनी गतिविधियों को न्यूनतम तक सीमित रखें.'