अपराधी छवि के सुरेंद्र यादव को उम्मीदवार बनाकर राजद ने साबित कर दिया कि सरकार बनी तो फिर गुंडाराज को स्थापित किया जाएगा

पटना
बिहार भाजपा ने राजद नेता तेजस्वी यादव पर जोरदार निशाना साधा है। भाजपा ने सुरेंद्र यादव को जहानाबाद से टिकट दिए जाने को लेकर राजद को घेरा। भाजपा विधायक और उत्तर प्रदेश के सह प्रभारी डॉ. संजीव चौरसिया ने राजद को निशाने पर लेते हुए उसे राष्ट्रीय गुंडा दल बताया। उन्होंने कहा कि अपराधी छवि के सुरेंद्र यादव को उम्मीदवार बनाकर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने इसे एक बार फिर साबित कर दिया कि राजद की सरकार बनी तो एक बार फिर गुंडाराज को स्थापित किया जाएगा।

संजीव चौरसिया ने आगे कहा कि दबंगों से प्यार, दलितों पर अत्याचार, नहीं चलेगा यह दोहरा विचार। तेजस्वी यादव अपने पिताजी की राह चल पड़े हैं। आज गालीबाज, खूंखार, महिला पर करता है अत्याचार, वही है तेजस्वी का असली यार। उन्होंने आगे कहा कि जमुई में चुनाव के दौरान पासवान जाति के वोटरों की राजद के समर्थकों की ओर से पिटाई की गई। पटना के दानापुर में यादव जाति के लोगों द्वारा दलितों की पिटाई की गई और एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। सामंत और राजशाही की बात आज पुरानी भले हो गयी है, लेकिन आज सही मायने में राजद वाले असली सामंतवादी हैं। राजद ने राजनीति के चक्कर में एक नया सामंती वर्ग बना दिया है।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से इशारा करके लोजपा (रामविलास) के चिराग पासवान को अपमानित किया गया और उनकी मां को लेकर अभद्र टिप्पणी की गई। वह गलत है। सही अर्थों में चुनाव में हार को देखते हुए राजद वाले बौखला गए हैं, इसलिए, डरा-धमकाकर दलितों से वोट लेना चाहते हैं। राजद खुद को दलितों, पिछड़ों का बड़ा हितैषी कहती है। राजद इनका इस्तेमाल बस अपने स्वार्थ के लिए करती है। विकास के नाम पर राजद दलितों, पिछड़ों को जातिवाद का झुनझुना पकड़ाना चाहती है। राजद केवल दलितों, गरीबों, पिछड़ों की ही विरोधी नहीं, सनातन विरोधी भी है।

You may have missed