बुमराह जीनियस है, तेज गेंदबाज टी20 विश्व कप में आगे भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखे: रोहित शर्मा

न्यूयॉर्क
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने जसप्रीत बुमराह को ‘जीनियस’ करार देते हुए कहा कि वह चाहते हैं कि यह तेज गेंदबाज टी20 विश्व कप में आगे भी इसी तरह का प्रदर्शन जारी रखे। बुमराह की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने अपने कम स्कोर का बचाव करते हुए चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 6 रन से हराया। भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 119 रन पर आउट हो गई। इसके जवाब में पाकिस्तान की टीम सात विकेट पर 113 रन ही बना पाई। बुमराह ने चार ओवर में 14 रन देकर तीन विकेट लिए।

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘‘उसके (बुमराह) प्रदर्शन में लगातार निखार आ रहा है। हम सभी जानते हैं कि वह क्या कर सकता है। उसके बारे में बहुत अधिक बात नहीं करूंगा। हम चाहते हैं कि वह पूरे विश्व कप में इसी तरह की मानसिकता के साथ खेले। वह जीनियस है। हम सभी यह जानते हैं।’’ भारतीय कप्तान ने कहा कि कम स्कोर बनाने के बावजूद उनको मैच जीतने का विश्वास था क्योंकि पिच बल्लेबाजी के लिए अनुकूल नहीं थी। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास जिस तरह का गेंदबाजी आक्रमण है उससे हम आश्वस्त थे। जब वे बल्लेबाजी कर रहे थे तो हमने आपस में कहा कि अगर हमारे साथ ऐसा हो सकता है तो उनके साथ भी हो सकता है।’’

भारत का स्कोर एक समय तीन विकेट पर 89 रन था लेकिन इसके बाद उसने 30 रन के अंदर सात विकेट गंवा दिए। रोहित ने स्वीकार किया कि उनकी टीम को अच्छी बल्लेबाजी करनी चाहिए थी। उन्होंने कहा, ‘‘हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की। हमारी पारी के आधे भाग तक हम अच्छी स्थिति में थे। हम अच्छी साझेदारी निभाने में नाकाम रहे। हमने बात की की इस तरह की पिच पर प्रत्येक रन मायने रखता है। ईमानदारी से कहूं तो पिछले मैच की तुलना में यह अच्छा विकेट था।’’ रोहित ने कहा, ‘‘इस तरह के विकेट पर थोड़ा योगदान भी बड़ा अंतर पैदा कर सकता है।’’

बुमराह को लगातार दूसरे मैच में मैन ऑफ द मैच चुना गया। उन्होंने कहा कि दूसरी पारी में बल्लेबाजी करना आसान हो गया था लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने अनुशासित प्रदर्शन किया। बुमराह ने कहा, ‘‘सच में बहुत अच्छा लग रहा है। हमने थोड़ा कम रन बनाए थे और धूप खिलने के बाद बल्लेबाजी करना थोड़ा आसान हो गया था। हमने वास्तव में अनुशासित गेंदबाजी की और इसलिए यह अच्छा लग रहा है।’’ पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने कहा कि लक्ष्य का पीछा करते हुए 59 गेंद पर रन नहीं बना पाना टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। बाबर ने कहा, ‘‘हमने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन बल्लेबाजी में हमने लगातार विकेट गंवाए। हमने कई गेंदे खाली जाने दी। हम फिर से पहले छह ओवर में अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाए।’’

टीम की रणनीति के बारे में पूछे जाने पर बाबर ने कहा, ‘‘हमारी रणनीति सहज होकर खेलना था। हमने एक दो रन लेने और बीच में बाउंड्री लगाने की रणनीति बनाई थी लेकिन इस बीच हमने काफी गेंद खाली जाने दी और ऐसे में पुछल्ले बल्लेबाजों से बहुत अधिक उम्मीद नहीं कर सकते।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पिच अच्छी नजर आ रही थी। गेंद बल्ले पर अच्छी तरह से आ रही थी। अब हमें अंतिम दो मैच जीतने होंगे। हमारी निगाह अब अगले दो मैच पर टिकी है।’’

 

You may have missed