चार कैबिनेट और चार राज्यमंत्री बनाए, नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार में बिहार के आठ सांसद बने मंत्री

पटना.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र की नई राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार में बिहार के कुल आठ सांसदों को मंत्रीपद की शपथ दिलाई गई। इनमें छह लोकसभा के सांसद हैं, जबकि दो राज्यसभा सांसद हैं। आठ मंत्रियों में चार भारतीय जनता पार्टी, दो जनता दल यूनाईटेड, एक लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) और एक हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्युलर) के सांसद हैं।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को केंद्र में सरकार बनाने के लिए बधाई दी। वह जदयू कोटे के मंत्रियों के साथ राज्यसभा सांसद संजय झा सहित शपथ ग्रहण समारोह में भी पहुंचे थे। पिछली बार बिहार की 40 में से 39 सीटें जीतने वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को इस बार 30 सीटों से संतोष करना पड़ा। इसमें भाजपा और जदयू के 12-12 सांसद चुने गए। भाजपा से पिछली सरकार में भी तीन मंत्री बने थे। इस बार चार मंत्री बनाए गए हैं- बेगूसराय सांसद गिरिराज सिंह, उजियारपुर सांसद नित्यानंद राय, मुजफ्फरपुर सांसद राजभूषण चौधरी और राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र दुबे। जदयू से मुंगेर सांसद राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह और राज्यसभा सांसद रामनाथ ठाकुर को केंद्र में मंत्रीपद की शपथ दिलाई गई। चिराग पासवान के नेतृत्व वाली लोजपा (रामविलास) के सभी पांच प्रत्याशी सांसद चुने गए। चिराग को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्रीपद की शपथ दिलााई गई। हम (सेक्युलर) को लड़ने के लिए एनडीए में एक ही सीट मिली थी और पार्टी प्रमुख जीतन राम मांझी गया से सांसद बनने के बाद अब केंद्रीय मंत्री बनाए गए हैं।

चार कैबिनेट और चार राज्यमंत्री बनाए गए
रविवार को राष्ट्रपति भवन परिसर में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में गिरिराज सिंह, ललन सिंह, जीतन राम मांझी और चिराग पासवान को कैबिनेट मंत्री बनाया गया। राज्यमंत्री के रूप में रामनाथ ठाकुर, नित्यानंद राय, सतीश चंद्र दूबे और राजभूषण चौधरी निषाद को शपथ दिलाई गई।