आधार केंद्र संचालन के लिए मिलने वाले सामान के लिए इन दोनों ने 40 हजार रु की मांग की थी, लोकायुक्‍त ने रंगे हाथों पकड़ा

धार
धार जिले में बुधवार को दोपहर दो बजे लोकायुक्त पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 15 हजार की रु की रिश्वत लेते हुए कामन सर्विस सेंटर ई-गवगवर्नेंस के जिला प्रबंधक व जिला समन्वय को धार में रंगे हाथ पकड़ा है। कार्रवाई यहां सर्किट हाउस में की गई। इसमें अरविंद पुत्र तुलाराम वर्मा जिला प्रबंधक सीएससी सेंटर ई – गवर्नेंस धार व रवि सिंह पुत्र सुरेश सिंह गहलोत जिला समन्वयक सीएससी सेंटर ई गवर्नेंस धार को गिरफ्तार कर लिया है। आधार केंद्र संचालन के लिए मिलने वाले सामान कम्प्यूटर, प्रिंटर, बायोमैट्रिक मशीन के लिए इन दोनों ने 40 हजार रु की मांग की थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आवेदक विजय पुत्र रामेश्वर कुमावत निवासी बरमंडल तहसील सरदारपुर जिला धार ने लोकायुक्त को शिकायत की थी। इसमें बताया था कि सरदारपुर में एक आधार केंद्र चालू करना था। इसके लिए जिला प्रबंधक एवं समन्वयक से मिलकर उसने आधार पंजीयन केंद्र चालू करने के लिए आवेदन दिया था।
 
यह आवेदन मान्य हो गया था। आधार केंद्र संचालन के लिए आवेदक को मिलने वाला सामान इसमें कम्प्यूटर, प्रिंटर, बायोमैट्रिक मशीन आदि मिलना था। इसके लिए जिला प्रबंधक अरविंद वर्मा एवं जिला समन्वयक रवि गहलोत द्वारा विजय कुमावत से 40 हज़ार रु की रिश्वत मांगी गई थी।