भारत ने पहले वनडे में साउथ अफ्रीका को रौंद डाला, 143 रन से दी शिकस्त

नई दिल्ली

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने साउथ अफ्रीका को पहले वनडे में रौंद डाला। भारत को एम चिन्नास्वामी में 143 रन से जीत मिली। मंधाना और आशा ने कमाल का प्रदर्शन किया। भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में विजयी आगाज किया है। भारत ने रविवार को पहले वनडे में साउथ अफ्रीका को 143 रन से रौंद डाला। ओपनर स्मृति मंधाना की शतकीय पारी के दम पर टीम इंडिया ने बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में 265/8 का स्कोर खड़ा किया। जवाब में साउथ अफ्रीका की पारी 37.4 ओवर में 122 रन पर सिमट गई। ऑलराउंडर आशा शोभना ने कातिलाना गेंदबाजी की। उन्होंने 8.4 ओवर में महज 21 रन देकर चार विकेट चटकाए। दीप्ति शर्मा ने दो जबकि रेणुका सिंह, पूजा वस्त्रकार और राधा यादव ने एक-एक विकेट लिया।

लक्ष्य का पीछा करते हुए साउथ अफ्रीका की शुरुआत खराब रही। रेणुका ने पहले ओवर में कप्तान लौरा वोल्वार्ड्ट (4) को बोल्ड किया। पूजा ने छठे ओवर में एनेके बॉश (5) को एलबीडब्ल्यू किया। तजमीन ब्रिट्स ने 18 रन की पारी खेली। साउथ अफ्रीका ने 33 रन पर तीन विकेट खो दिए, जिसके बाद सुने लुस (33) और मैरिजान कप्प (24) ने मोर्चा संभाला। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 39 रन की साझेदारी की। कप्प को आशा ने 22वें ओवर में अपना शिकार बनाया और साउथ अफ्रीका की पारी फिर से लड़खड़ा गई। साउथ अफ्रीका की सात प्लेयर दहाई का आंकड़ा नहीं छू सकीं। सिनालो जाफ्ता (27) ने काफी देर एक छोर संभाले रखा।

इससे पहले, भारत ने मंधाना के छठे वनडे शतक की बदौलत चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। उन्होंने 127 गेंदों में 12 चौकों और एक छक्के की मदद से 117 रन जुटाए। मंधाना की भारतीय सरजमीं पर यह पहली इंटरनेशनल सेंचुरी है। भारतीय टीम 99 रन पर पांच विकेट गंवाकर जूझ रही थी और ऐसे में मंधाना संकटमोचक बनीं। चिन्नास्वामी स्टेडियम की धीमी पिच से सामंजस्य बिठाने के लिए मंधाना ने अपना आक्रामक खेल छोड़कर समझदारी से बल्लेबाजी की। भारतीय शीर्ष क्रम की बल्लेबाज शेफाली वर्मा (सात), कप्तान हरमनप्रीत कौर (10) और जेमिमा रोड्रिग्स (17) ने सस्ते में विकेट खोए।

मंधाना ने दीप्ति शर्मा (37) के साथ छठे विकेट के लिए 81 और पूजा वस्त्राकर (नाबाद 31) के साथ सातवें विकेट के लिए 58 रन की अहम साझेदारी की। उन्होंने 61 गेंदों में पचासा और 116 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। शतक पूरा करने के बाद उन्होंने खाका के खिलाफ दो चौके जड़ रन गति बढ़ाई। दूसरे छोर से पूजा ने डर्कसन के दो ओवरों में दो चौके जड़े। इस बीच क्लास के खिलाफ मंधाना बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में लुस को कैच दे बैठीं। साउथ अफ्रीका के लिए अयाबोंग खाका ने 47 रन देकर तीन जबकि मसाबाटा क्लास ने 51 रन देकर दो विकेट झटके।